budh purnima 2020

बुद्ध पूर्णिमा 2021 – महात्मा बुद्ध के अनमोल वचन – Buddha Purnima 2021

Dharm Sansar Quotes

बुद्ध पूर्णिमा ( Buddha Purnima) : बुद्धं शरणं गच्छामि : मैं बुद्ध की शरण लेता हूं।धम्मं शरणं गच्छामि : मैं धर्म की शरण लेता हूं।संघं शरणं गच्छामि : मैं संघ की शरण लेता हूं।

भारतवर्ष को देव भूमि भी कहा जाता है। हमारी इस पवित्र धरती पर समय समय अनेक देवी देवताओ, महान पुरुषो, समाज सुधारक, युग प्रवर्तक, धर्म प्रवर्तक महापुरुषों ने जन्म लिया है। और ये हमारे लिए एक बहुत की गर्व की बात है।

आप सब को Buddha Purnima की ढेर सारी बधाई।

बुद्ध पूर्णिमा ( Buddha Purnima ) क्यों मानते हैं मनाते हैं

बौद्ध धर्म के प्रवर्तक भगवान गौतम बुद्ध द्वारा दिए गए सन्देश दुनिया को सत्य और धर्म के रस्ते पर चलने के लिए प्रेरित करते हैं। भगवन बुध ने दुनिया को सत्य और अहिंसा का उपदेश दिया था और उनके कथन मानवता के लिए बहुत ही अनमोल हैं।

इसी दिन भगवान बुद्ध का जनम हुआ था। इसलिए ये दिन हम सब के किये काफी महत्वपूर्ण है। बुध पूर्णिमा को म‍हात्‍मा गौतम बुद्ध के जन्‍मदिन , ज्ञान दिवस ,के रूप में भी मनाया जाता है।


आपको यह भी पसंद आएगा –50 Motivational Swami Vivekanand Quotes Hindi – स्वामी विकेकानंद के अनमोल वचन


आईये दोस्तों भगवन बुध के कुछ अनमोल बचनों को एक बार फिर देखते है।

महात्मा बुध के अनमोल वचन – Quotes of Lord Buddha on this Buddha Purnima

  • एक जलते हुए दीपक से हजारो दीपक जलाये जा सकते है जिसकी कोई सीमा नही है फिर भी उसकी रौशनी कम नही होती है ठीक उसी तरह खुशिया बाटने से खुशिया कम नही होती है बल्कि और भी बढती है
  • क्रोध के लिए सजा नही मिलती बल्कि अपने क्रोध से की गयी गलती के लिए सजा मिलती है
  • तो चलिए आज हम सभी भगवान गौतम बुद्ध के अनमोल विचारो, उनके कहे गये अनमोल वचन और मानवता के उपदेशो को जानते है.
  • घृणा को घृणा से खत्म नही किया जा सकता है बल्कि इसे प्रेम से ही खत्म किया जा सकता है जो की एक प्राकृतिक सत्य है
  • जो बीत गया उसमे नही उलझना चाहिए और ना ही भविष्य को लेकर ज्यादा चिंतित रहना चाहिए बल्कि हमे वर्तमान में ही जीना चाहिए यही ख़ुशी से जीने का रास्ता है
  • तीन चीजे कभी छुप नही सकती है – सूर्य चंद्रमा और सत्य
  • हजार शब्दों से वह शब्द अच्छा है जो शांति लेकर आता है
  • हजारो लड़ाई लड़ने के बजाय खुद पर विजय प्राप्त करना चाहिए फिर जीत हमेसा खुद की होगी जिसे कोई छीन नही सकता है
  • जैसा सोचोगे वैसा ही बनोगे – Quotes of Lord Buddha on this Buddha Purnima
  • जैसे बिना आग के मोमबत्ती नही जल सकती है ठीक उसी तरह बिना आध्यात्मिक ज्ञान के इन्सान नही रह सकता है
  • शांति हमारे अंदर ही छिपी हुई है इसे बाहर ढूढना व्यर्थ है
  • समुद्र भी बूंद बूंद से भरता है
  • हमारा दिमाग ही हमारा दोस्त और हमारा दुश्मन है
  • दुसरो पर निर्भर रहने के बजाय अपना काम खुद से करना चाहिए
  • अच्छा स्वास्थ्य ही सबसे बड़ा उपहार है संतोष होना सबसे बड़ा धन है और वफ़ादारी सबसे बड़ा सम्बन्ध है
  • अपने मुक्ति के लिए खुद से प्रयासरत बने, दुसरो पर निर्भर होना छोड़े
  • जो इर्ष्या और जलन की आअग में तपते रहते है उन्हें कभी भी शांति और सच्चा सुख प्राप्त नही हो सकता है
  • अज्ञानी होना बैल होने के बराबर है जो सिर्फ आकार में बड़े होते है लेकिन उनके दिमाग में कोई वृद्धि नही होती है
  • क्रोधी व्यक्ति की स्थिति ठीक वैसी ही होती है जो की जलते हुए आग के टुकड़े को पकड़ने की कोशिश करते है जिसमे वे स्वय जलते रहते है
  • भले ही चाहे कितने अच्छी बातो को पढ़ ले या उन्हें सुन ले उसका तबतक फाय दा नही है जबतक हम खुद उसपर अमल नही करते है – Buddha Purnima Quotes
  • जीभ एक ऐसा हथियार है जो बिना खून निकाले ही मार देता है
  • शरीर को स्वच्छ रखना हमारा कर्तव्य है वरना हम अपने दिमाग को मजबूत और स्वच्छ नही रख पायेग
  • बिना सेहत के स्वस्थ्य जीवन की कल्पना करना बेमानी है जो की पीड़ा की स्थिति होती है जिसे मौत का प्रतिबिम्ब कहा जा सकता है
  • अपना रास्ता हमे खुद से बनाना होता है क्युकी इस दुनिया में हम अकेले आये है और अकेले ही जाना पड़ेगा तो ऐसे में हमारी किस्मत भी खुद से बनाते है
  • हम तभी असफल होते है जब असत्य का सहारा लेते है
  • हमारा दुश्मन ही हमारा उतना नुकसान नही कर सकता है जितना हमारा विचार खुद से हमारा नुकसान कर सकता है
  • ये कभी मत सोचो की ये क्या हो गया बल्कि ये हमेसा करने की सोचो की हमे आगे क्या करना है
  • गलत चीजो की शुरुआत हमारे गलत विचारो से ही आते हैQuote:-30जो करना है आज ही करे क्या पता कल हमारे पास जिन्दगी ही नही रहे
  • बुराई करने वालो को हमेसा अपने पास रखो क्युकी वही तुम्हारी गलतिया तुम्हे बता सकते है
  • हम अपने भाग्य के निर्माता खुद से होते है
  • अगर लापरवाह रहते है तो नर्म घास से भी हाथ छिल जाते है इसलिए धर्म के प्रति की गयी लापरवाही हमे नरक के द्वार पर ले जाती है
  • हमारा शरीर अनमोल है खुद को जागृत करने का सबसे बड़ा साधन है इसलिए इसका हमेसा ख्याल रखे
  • यदि हम अपनी समस्या का हल निकाल सकते है तो फिर चिंता करने की क्या जरूरत, और यदि समस्या का कोई हल ही नही तो फिर उसका चिंता करने से कोई फायदा ही नही
  • अगर आप सही रास्ते पर चल रहे है तो आपका काम है लगातार आगे चलते रहना
  • जो लोग ज्यादा बोलते है वे सीखने की कोशिश नही करते जबकि समझदार व्यक्ति हमेसा निडर और धैर्यशाली होता है जो समय आने पर ही बोलता है
  • यदि हम अपने पसंद का काम ढूढ़ते है तो हमारा फर्ज है की उस काम को करने में खुद को लगा देना होता है
  • आप तभी खुश रह सकते है जब बीत गयी बातो को भुला देते है
  • यदि आध्यात्म और सत्य की राह में कोई नही मिलता तो भी अकेले ही चलिए
  • दर्द तो मिलना स्वाभाविक है फिर दुखी होना या न होना आपके हाथ में है
  • अगर बुराई से दूर रहना है तो अच्छाई को बढ़ावा दीजिये और खुद के मन में अच्छे अच्छे विचार का विकास करे
  • मोह बंधन ही सभी दुखो की जड़ है – Quotes on this Buddha Purnima
  • जो आज हम कर रहे है वही हमारे लिए सबसे ज्यादा मायने रखती है
  • हर व्यक्ति को सजा से डर लगता है सभी लोग मौत से डरते है सभी लोगो को अपने समान समझिये, कभी भी किसी जीव की हत्या ना करे और दुसरो को भी ऐसा करने से रोके
  • माता पिता बनना सबसे प्यारा अनुभव होता है उत्साह से जीवन जीना और खुद पर महारत हासिल करना ख़ुशी देता है
  • बुरे व्यक्ति को भी अच्छाई से जीता जा सकता है
  • ख़ुशी पाने का कोई रास्ता नही होता है खुश रहना ही ख़ुशी है
  • जो लोग थोड़े में भी खुश हो जाते है वही व्यक्ति ज्यादा ख़ुशी होता है
  • अगर खुद से प्यार करते है तो निश्चित आप कभी दुसरो को चोट नही पंहुचा सकते है
  • ख़ुशी अपने से नही बल्कि हमारे अच्छे कर्मो से मिलती है
  • पूरी दुनिया में अँधेरा चाहे जितना ताकत लगा ले लेकिन एक मोमबत्ती के रौशनी तक को मिटा नही सकता
  • संदेह या शंका करना एक ऐसी भयंकर बीमारी है जो सारे रिश्तो को पलभर में तोड़ देती है
  • मन की अवस्था सभी मानसिक अवस्थाओ से ऊपर है
  • झरना बहुत ही शोर मचाता है जबकि सागर हमेसा गहरा और शांत रहता है
  • जो व्यक्ति खुद के क्रोध पर काबू पा लेता है वह उस कुशल गाड़ीवान के समान है जो विषम परिस्थिति में भी अपने गाडी को संभाल सकता है
  • हमेसा सोच समझकर ही दुसरो पर भरोषा करे
  • अपनी मंजिल का रास्ता खुद से बनाये
  • जो व्यक्ति किसी भी परिस्थिति में भी विचलित नही होते है उन्हें ही सच्चे मन की शांति मिलती है
  • ज्ञानी व्यक्ति की कभी भी मृत्यु नही होती है वे अपने ज्ञान का प्रकाश हमेसा बिखरते रहते है जबकि मुर्ख और अज्ञानी व्यक्ति पहले से ही अपने विचारो से मरे होते है
  • सभी को गौतम बुद्ध के ये अनमोल विचार कैसे लगे कमेंट में जरुर बताये और इन अनमोल विचारो को शेयर भी जरुर करे.

 1,063 total views,  2 views today

Lata

Hello Friends, Thank you for stopping by at a2zHindiInfo.com। आपकी तरह मुझे भी current affairs और General Knowledge बहुत पसंद है और आज के ज़माने में अपने आस पास जो हो रहा है उससे अपने आप को अपडेटेड रखना भी बहुत जरूरी है । मैंने जो भी ज्ञान हासिल किया है उसे मै सबके साथ शेयर करना चाहती हूं और मेरा ये ब्लॉग उसी दिशा में एक कदम है। अगर आपका कोई सुझाव है इस वेबसाइट को लेके या कोई शिकायत है तो हमें जरूर लिक भेजें। हमारा ईमेल हैं contact@a2zhindiinfo.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *