interview process

Interview process steps – इंटरव्यू प्रक्रिया की सारी जानकारी

Career

इंटरव्यू प्रक्रिया की सारी जानकारी – Interview process steps – क्या आप जॉब मार्केट में नए हैं या आप अपने करियर के शुरुआती दौर में हैं और जॉब बदलना चाह रहे हैं । 

अगर हाँ तो आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आएगा। कई कंपनियां आज अपनी इंटरव्यू प्रक्रिया में कई चरणों में रखती हैं (Multiple steps in Interview Process )

इसलिए ये जानकारी आपके लिए लाभदायक होगी । ज्यादातर कंपनियां, विशेष रूप से टेक डोमेन (Tech Domain) में जो है वो जरूर इंटरव्यू कई steps में करती हैं और इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप इन चरणों को समझें और अच्छी तरह से तैयारी करें। 

तो मेरी इस पोस्ट में आपका स्वागत है और इंटरव्यू प्रोसेस पर स्टेप बाय स्टेप गाइड – इंटरव्यू प्रक्रिया की सारी जानकारी – Interview process steps .

आपको इंटरव्यू प्रक्रिया (Interview process steps) को क्यों जानना और समझना चाहिए

हम में से कई लोग इन कदमों को गंभीरता से नहीं लेते हैं । 

मेरा तजुर्बा ये कहता है की अगर आप इन स्टेप्स को ठीक से समझे और उसके मुताबिक तैयारी करें तो आप एक अच्छा प्रभाव डाल सकते है जो आपको मदद करेगा आगे सैलरी पे बात करने से।

अगर आप अच्छे से negotiate करें तो अच्छी सैलरी पा सकते हैं जो की अच्छा है। है न ?

इंटरव्यू प्रक्रिया (Interview process Steps) के मुख्य स्टेप्स

सामान्य तौर पर, एक साक्षात्कार प्रक्रिया में नीचे दिए गए चरण शामिल होते हैं

  1. नौकरी के लिए आवेदन
  2. इंटरव्यू के लिएबुलावा
  3. टेलिफोनिक साक्षात्कार ( Telephonic Interview )
  4. व्यक्तिगत साक्षात्कार (आमने सामने – face to face interview )
  5. HR से साक्षात्कार (HR Interview )
  6. प्रस्ताव ( Offer release )
  7. Background Verification
  8. Joining formalities ( ज्वाइन करने के टाइम की औपचारिकता)

तो आइए इन चरणों को एक-एक करके विस्तार से देखें

नौकरी के लिए आवेदन – Interview process Steps # 1

यह आपके जॉब इंटरव्यू प्रक्रिया का पहला चरण है। यह पहला कदम है जो सबसे महत्वपूर्ण भी है। आपने एक जॉब का इश्तिहार देखा है और आप अप्लाई करने के इच्छुक हैं।

सो आप क्या करते हैं की उस वेबसाइट पे जाते है और अपना रजिस्ट्रेशन करते हैं। अपना प्रोफाइल बनाते हैं और अप्लाई बटन दबा देते हैं। यहीं पे आप एक महत्वपूर्ण स्टेप भूल रहे है। चलिए बताता हूँ।

आज से १५ से २० साल पहले जब इंटरनेट पे जॉब अप्लाई करना इतना भी मशहूर नहीं हुआ था , हम लोग पोस्ट से जॉब एप्लीकेशन भेजते थे जसिमे अपना रिज्यूमे और कवर लेटर अटैच करते थे।

लेकिन अब सभी नौकरी आवेदन ऑनलाइन प्रक्रिया है और इसलिए कोई भी वास्तव में डाक द्वारा कोई आवेदन नहीं भेजता है। 

क्या आपको डाक द्वारा कोई आवेदन भेजना याद है? हो सकता है कि कुछ सरकारी नौकरियों के लिए हाँ, लेकिन अब सरकारी नौकरियॉं भी ऑनलाइन आवेदन मांग रही हैं।

ठीक है, वापस बिंदु पर आ रहा है। आज हम सिर्फ नौकरी की साइट पर जाते हैं, नौकरी की तलाश करते हैं और अप्लाई पर क्लिक करते हैं। 

जब आप क्लिक करते हैं तो कई साइटें आपसे पूछती हैं कि क्या आप कवर पत्र संलग्न करना चाहते हैं और आप आवेदन को अनदेखा करते हैं और अप्लाई हिट करते हैं। 

यह वह जगह है जहाँ आप एक गलती कर रहे हैं। 

कवर लेटर – एक बहुत ही जरूरी चीज है। आजकल हम इसे भूल जाते हैं बस अप्लाई का बटन दबा देते हैं।

आपको एक कवर पत्र संलग्न करना चाहिए। ये एक अच्छा लेख है कवर लेटर पे – इसे जरूर पढे

कवर लेटर जॉब एप्लीकेशन का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। सो आप कवर लेटर पे भी ध्यान दें । 

कृपया ऊपर लिंक वाला पोस्ट को पढ़ें, इसमें कवर पत्र पर बहुत महत्वपूर्ण इनफार्मेशन हैं।

इंटरव्यू कॉल ( Call for interview ) – साक्षात्कार प्रक्रिया चरण # 2

यह दूसरा चरण है जहां आपको तैयार रहना चाहिए। आम तौर पर हम सोचते हैं कि यह वह कदम है, जहां तारीख और समय के लिए दूसरे पक्ष से पुष्टि प्राप्त करना है। लेकिन नहीं यह सिर्फ इतना ही नहीं है। 

यदि कॉल एकबिचौले कंपनी ( यानि की रिक्रूटमेंट एजेंट ) से है, तो भी (और यदि आपने पहले कुछ इंटरव्यू दिए हैं), तो वेआपसे प्रारंभिक जानकारी जैसे की तजुर्बा , अपेक्षित वेतन आदि जैसी कुछ प्रारंभिक जानकारी मांगेंगे। ईमानदार रहें और जो पूछा जा रहा है, उसे सही सही बताएं।

लेकिन यदि कॉल कंपनी के मानव संसाधन विभाग से है, तो आप इसे अपने कवर पत्र के अनुवर्ती रूप में मान सकते हैं। 

हां यह मूल रूप से साक्षात्कार के समय को तय करने के लिए है, लेकिन यह फ़ोन कॉल यह भी समझने के लिए है की आप जिस जॉब के लिए आपली कर रहे हैं क्या आप इसमें वाक़ई रूचि रखते हैं।

कोई भी कंपनी अपना समय ऐसे कैंडिडेट पे व्यर्थ नहीं करना चाहेगी जिसे जॉब में कोई खास इंटरेस्ट नहीं है।

और इसलिए सुनिश्चित करें कि आप अपनी रुचिदिखाये और अच्छी तरह से बात करें । 

इंटरव्यू के किसी भी चरण में याद रखें, आपके अलावा और भी कई उम्मीदवार हैं और इसलिए आपको हर उस अवसर का उपयोग करना होगा जिसे आप बाकी लोगों से अपने आप को अलग साबित कर सकते हैं। 

यह बहुत महत्वपूर्ण है।

टेलिफोनिक साक्षात्कार ( Telephonic Interview ) – Interview process Steps # 3

यह कई संगठनों की साक्षात्कार प्रक्रिया में एकऑप्शनल (optional ) कदम हो सकता है लेकिन अगर ऐसा है तो आपको इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। 

आम तौर पर एक टेलीफोन पर साक्षात्कार के बाद एक व्यक्तिगत (face to face ) साक्षात्कार होता है, लेकिन आज वैश्विक दुनिया (Global World ) में, यह भी संभव हो सकता है कि आपका साक्षात्कारकर्ता ( इंटरव्यू लेने वाला ) दुनिया के किसी और कोने में बैठा है और इसलिए अगले दौर में स्काइप या किसी अन्य वेब मीटिंग टूल पर एक वीडियो साक्षात्कार हो सकता है ।

लेकिन टेलीफोनिक साक्षात्कार की प्रासंगिकता क्या है, यह समझना महत्वपूर्ण है। 

किसी भी Interview process में, विशेष रूप से टेक्नीकल ( technical ) भूमिकाओं (roles ) में, कई लोगो से कंपनी बात करती है और टेलिफोनिक साक्षात्कार पहले दौर में ही कैंडिडेट्स को छांट के कुछ ही लोगों को अगले दौर के लिए बुलाती है।

इसलिए इस राउंड में आम तौर पर उच्च स्तर पर विषय क्षेत्र में आपके ज्ञान को समझने की कोशिश की जाती है। 

इसलिए अच्छी तरह से तैयारी करें और आपके द्वारा पूछे गए हर प्रश्न का उत्तर सर्वोत्तम तरीके से दें और यदि आप उत्तर नहीं जानते हैं, तो यह कहना बेहतर होगा कि आपको इसका ज्ञान नहीं है ।

व्यक्तिगत साक्षात्कार (आमने सामने ie face to face ) – साक्षात्कार प्रक्रिया चरण # 4

यह पूरी साक्षात्कार प्रक्रिया में सबसे महत्वपूर्ण चरण है। आम तौर पर यह इंटरव्यू सीनियर लोग लेते हैं और यह जानने की कोशिश करते हैं की आपने अपने ज्ञान और एक्सपीरियंस को अप्लाई कैसे किया है।

Interview process Steps

तो प्रश्न और अधिक अधिक विस्तृत और अधिक जांच करने वाले होते हैं। इन प्रश्नों द्वारा यह समझने की कोशिश की जाती है की –

  • आत्मविश्वास कैसा है आपका
  • विषय वस्तु पर समझ कैसी है आपकी
  • ज्ञान को लागू करने की क्षमता
  • महत्वपूर्ण स्थिति को संभालने की क्षमता
  • एक टीम में काम करने की क्षमता
  • उच्च दबाव वाले वातावरण में काम करने की क्षमता

कई बार साक्षात्कारकर्ता पूछेगा कि क्या आपके पास साझा करने के लिए कोई उदाहरण या स्थिति है, लेकिन मैं जो कहूंगा वह यह है कि अपनी वर्तमान नौकरी या पिछली नौकरियों के उदाहरणों के साथ उत्तर देने का प्रयास करें।

 सुनिश्चित करें कि आप केवल प्रासंगिक उदाहरण दे रहे हैं।

HR साक्षात्कार – साक्षात्कार प्रक्रिया चरण # 5

अधिकांश साक्षात्कार प्रक्रियाओं में यह 5 वाँ चरण है। आमतौर पर हम सभी कुछ खास सवालों के कारण इस दौर से थोड़ा डरते हैं। जैसी की

  • बताओ अपने बारे मेँ
  • आप यह नौकरी क्यों चाहते हैं
  • आप इस कंपनी से क्यों जुड़ना चाहते हैं
  • आप जिस पोस्ट के लिए आवेदन कर रहे हैं उसमें आप क्या मूल्य जोड़ेंगे

मेरा मतलब है कि ये सामान्य प्रश्न हैं जो आपके आत्मविश्वास स्तर, आपके उत्साह आदि को समझने के लिए बनाये गए हैं।

यह जॉब के प्रति आपकी गंभीरता को समझने के लिए है और इसलिए यह दौर बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। 

यह भी देखना है कि क्या आप सांस्कृतिक रूप से संगठन में फिट होंगे ( यानि की आपका organization में cultural fit कैसा रहेगा )।

Interview process Steps

मैं अपने एक अनुभव को बताता हूँ । लगभग 10 से 12 साल पहले, मैं गैर-आईटी कंपनी में आईटीरोल के लिए अप्लाई कर रहा था। यह एक अच्छी नौकरी थी और मुझे इसमें दिलचस्पी थी और इसने मुझे एक बेहतर स्थान का लाभ भी दिया (Location advantage था )। 

मैंने लिखित परीक्षा दी (हाँ, उनके पास टेलीफ़ोनिक साक्षात्कार के बजाय एक लिखित परीक्षा थी) और बहुत अच्छी तरह से पास किया । 

शीर्ष 5 चयनित उम्मीदवारों में था और फिर व्यक्तिगत साक्षात्कार ( face to face interview ) भी शानदार था। फिर आया HR राउंड और एक दो के बाद आया ये सवाल –

“आपने अच्छा किया, लेकिन आपका सारा करियर आईटी संगठनों में है, यह एक गैर-आईटी कंपनी है। आईटी के लोग जॉब जंप करने के लिए जाने जाते हैं। इस बात की क्या गारंटी है कि आप लंबे समय तक यहां रहेंगे ”?

जाहिर है कि मैं इस सवाल के लिए तैयार नहीं था। अगर मुझे इसकी उम्मीद होती, तो मैं कंपनी के बारे में और अधिक सीखता, जानता की कंपनी ज्वाइन करने से मेरा कैरियर गोल कैसे साझा होता है।

मै उन्हें समझापाता की मुझे उस जॉब में क्या अच्छा लगा। यानि की मैंने जवाब दिया होता।

वैसे भी, इस घटना को बताने का उद्देश्य आपको HR साक्षात्कार के लिए अच्छी तरह से तैयार करने की आवश्यकता को समझना है।

HR साक्षात्कार केवल वेतन वार्ता का दौर नहीं है!

इस पर एक बहुत अच्छा लेख है। कृपया इसके माध्यम से पढ़ें।

ऑफ़र जारी करना ( Offer Release )- साक्षात्कार प्रक्रिया चरण # 6

यह साक्षात्कार प्रक्रिया का सबसे प्यारा हिस्सा है। अगर आपने अच्छा किया है और कंपनी ने आपको पसंद किया है, तो आपके पास कंपनी द्वारा जारी किया गया प्रारंभिक प्रस्ताव होगा।

 सुनिश्चित करें कि आपने HR साक्षात्कार दौर में अपनी अपेक्षा को अच्छी तरह से व्यक्त किया है।

एक बार जब आपके पास ऑफ़र की पेशकश होती है, तो आपको ऑफ़र की समीक्षा करने के लिए कुछ समय दिया जाता है, यदि आपके पास कोई सवाल है, तो पूछें और सुनिश्चित करें कि आप इसे अच्छी तरह से समझते हैं। 

आप सीटीसी (कंपनी की लागत) की जांच करें और समझें कि सीटीसी काफी अच्छा है की नहीं । 

आपको प्रस्ताव स्वीकार या अस्वीकार करने की आवश्यकता है। 

पृष्ठभूमि सत्यापन ( Background Verification ) – साक्षात्कार प्रक्रिया चरण # 7

यह एक महत्वपूर्ण कदम भी है। आपके ज्वाइन करने से पहले और प्रस्ताव स्वीकार करने के बाद कई कंपनियां ऐसा करती हैं। 

कई कंपनियां आपकी औपचारिकताओं में शामिल होने के बाद ऐसा कर सकती हैं।

आपने सभी दस्तावेज जमा कर दिए होंगे

  • शिक्षा प्रमाण पत्र
  • रोजगार प्रमाण
  • प्रशिक्षण प्रमाण पत्र
  • सन्दर्भ आदि ( Experience Letter )

कंपनियां इनका सत्यापन कराने की कोशिश करती हैं। इसलिए सुनिश्चित करें कि आप सभी सही जानकारी प्रदान करें।

जॉयनिंग औपचारिकता ( Joining Formalities ) – साक्षात्कार प्रक्रिया चरण # 8

और बधाई, आपके पास प्रस्ताव है। इस चरण में, आप मूल रूप से अपनी नई नौकरी में शामिल हो जाते हैं। 

आप नई कंपनी में आते हैं, संबंधित HR व्यक्ति से मिलते हैं और उनकी induction प्रक्रिया में भाग लेते हैं, जहां आपको कंपनी के बारे में अधिक बताया जाता है, कंपनी की प्रक्रियाओं का पालन किया जाता है, कंपनी के प्रस्तावों के बारे में पता चलता है आदि , आदि।

आपको कुछ प्रपत्रों पर हस्ताक्षर करने, दस्तावेजों को जमा करने / दिखाने की आवश्यकता है अर्थात शिक्षा और अनुभव का प्रमाण जो आपने दावा किया है आदि।

एक बार औपचारिकता पूरी होने के बाद आप नए संगठन का हिस्सा होते हैं।


निष्कर्ष

तो दोस्तों, ये वो स्टेप्स थे जो आमतौर पर किसी भी Interview Process में फॉलो किए जाते हैं और ये मेरे अनुभव से हैं और मुझे यकीन है कि कमोबेश यह हर जगह कुछ बदलावों के साथ होता है। 

मैंने इसे बहुत सरल भाषा में समझाने की कोशिश की है और मुझे उम्मीद है कि आपको यह पसंद आएगा। यदि आपके पास कोई प्रतिक्रिया या कोई टिप्पणी है, तो मुझे वापस लिखने में संकोच न करें या नीचे दिए गए टिप्पणी बॉक्स में अपनी प्रतिक्रिया दें। 


You will like this as well – Pilot Kaise Bane पायलट कैसे बने – become a commercial Pilot in India

 1,775 total views,  1 views today

Lata

Hello Friends, Thank you for stopping by at a2zHindiInfo.com। आपकी तरह मुझे भी current affairs और General Knowledge बहुत पसंद है और आज के ज़माने में अपने आस पास जो हो रहा है उससे अपने आप को अपडेटेड रखना भी बहुत जरूरी है । मैंने जो भी ज्ञान हासिल किया है उसे मै सबके साथ शेयर करना चाहती हूं और मेरा ये ब्लॉग उसी दिशा में एक कदम है। अगर आपका कोई सुझाव है इस वेबसाइट को लेके या कोई शिकायत है तो हमें जरूर लिक भेजें। हमारा ईमेल हैं contact@a2zhindiinfo.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *