Sirisha Bandla Biography सिरीशा बांदला जी की जीवनी

Sirisha Bandla Biography | सिरीशा बांदला जी की जीवनी

Biography in Hindi

Sirisha Bandla Biography – सिरीशा बंदला एक भारतीय-अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री हैं। उनका जन्म 1987 में भारत के आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में हुआ था।

सिरीशा बंदला ,कल्पना चावला के बाद अंतरिक्ष में जाने वाली दूसरी भारतीय महिला और अंतरिक्ष में जाने वाली चौथी भारतीय हैं।

Sirisha Bandla ( सिरीशा बंदला ) उन छह अंतरिक्ष यात्रियों में से एक है जो 11 जुलाई को “वीएसएस ऑफ यूनिटी / VSS of Unity ” वर्जिन गेलेक्टिक के लिए उड़ान भरे थे ।

Sirisha Bandla Biography

Sirisha Bandla Biography – Education

Sirisha Bandla ह्यूस्टन, टेक्सास में पली-बढ़ी।

उन्होंने Purude University , वेस्ट लाफायेट, इंडियाना, यूएस (2006-2011) से एयरोस्पेस, एरोनॉटिकल और एस्ट्रोनॉटिकल इंजीनियरिंग में बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी) किया।

इसके बाद, उन्होंने जॉर्ज वाशिंगटन विश्वविद्यालय, वाशिंगटन, डीसी, यूएस (2012-2015) से एमबीए किया।

सिरीशा बंदला बचपन से ही दृढ़ संकल्पित, मेघावी और अपने विचारों के प्रति निर्णायक थीं। बंदला बहुत छोटी उम्र से ही हवाई यात्रा के बारे में उत्सुक थी।

एक इंटरव्यू में सिरीशा के दादा ने कहा ,की महज चार साल की उम्र में , उन्होंने अमेरिका की यात्रा अकेले ही की थी , जहाँ उसके माता-पिता और बड़ी बहन रहती थी। क्योंकि वो जिनके साथ अमेरिका गयी थी वो उन्हें नहीं जानती थी । वह अकेले उड़ने से नहीं डरती थी उड़ान के लिए हमेशा उत्साहित रहती थी जैसे की वो आज है !

उसके दादा ने ये भी कहा

“हमें नहीं पता कि उसे विमान, सितारों और आसमान में कैसे दिलचस्पी हुई। यह उसमे बचपन से है। उसने आज जो कुछ भी हासिल किया है वह अपने दम पर है और उसके माता-पिता ने उसे अपने सपने को आगे बढ़ाने की पूरी आजादी दी। उसने अपनी उत्कृष्टता साबित की है।

Sirisha Bandla Biography – Family | सिरीशा बांदला जी का परिवार

उनके पिता का नाम बी मुरलीधर और माँ का नाम अनुराधा जी है। उसके माता-पिता दोनों संयुक्त राज्य अमेरिका में संघीय कर्मचारी हैं।

उनकी बड़ी बहन का नाम प्रत्यूषा बंदला है। उनकी बड़ी बहन, संयुक्त राज्य अमेरिका में एक जैविक विज्ञान तकनीशियन के रूप में काम करती हैं।

सिरीशा के दादा बंदला रगैया हैदराबाद के आचार्य एनजी रंगा कृषि विश्वविद्यालय में पूर्व प्रमुख वैज्ञानिक और प्रोफेसर रहे हैं।

वेंकट नरसिया, उनके नाना, एक सेवानिवृत्त रसायन विज्ञान के प्रोफेसर हैं, जो आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले के तेनाली में रहते हैं।

Sirisha Bandla Biography – Career | सिरीशा बांदला जी का कैरियर

सिरीशा ने एटीए इंजीनियरिंग के साथ डिजाइन, परीक्षण और विश्लेषण सह-संचालक के रूप में अपना काम शुरू किया।

वहां तीन साल के बाद, वह मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में एल-3 कम्युनिकेशंस इंटीग्रेटेड सिस्टम में चली गईं।

वह 2012 में अंतरिक्ष नीति विभाग में एसोसिएट डायरेक्टर के रूप में स्पेसफ्लाइट व्यवसायों के एक औद्योगिक संगठन, कमर्शियल स्पेसफ्लाइट फेडरेशन (CSF) में शामिल हुईं।

जुलाई 2015 में, सिरीशा ने वर्जिन गैलेटिक (एक ब्रिटिश-अमेरिकी स्पेसफ्लाइट फर्म) के लिए एक सरकारी मामलों के अधिकारी के रूप में काम करना शुरू किया।

2017 में, उन्हें व्यवसाय विकास और सरकारी मामलों के प्रबंधक के पद पर पदोन्नत किया गया था। इसके बाद उन्होंने वर्जिन ऑर्बिट के लिए बिजनेस डेवलपमेंट एंड गवर्नमेंट अफेयर्स मैनेजर और वाशिंगटन ऑपरेशंस के निदेशक के रूप में काम किया।

वह 2021 में वर्जिन ग्रुप में सरकारी मामलों के डायरेक्टर के रूप में शामिल हुईं।

सिरीशा 2021 तक अमेरिकन एस्ट्रोनॉटिकल सोसाइटी के निदेशक मंडल और फ्यूचर स्पेस लीडर्स फाउंडेशन के निदेशक मंडल की भी सदस्य रही हैं।

सिरिशा ने महज 6 साल की नौकरी में ही यह पद हासिल कर लिया, जो एक गर्व की बात है और उनकी काबिलियत को बयां करता है।


सिरीशा बांदला का पसंदीदा फ़ूड -पिज़्ज़ा

सिरीशा बांदला का पसंदीदा डेसर्ट – वेनिला आइसक्रीम

सिरीशा बांदला चाय पीना पसंद करती हैं।

उनके रोले मॉडल नील आर्मस्ट्रांग (अंतरिक्ष यात्री) है

गोल्फ उनके पसंदीदा खेलों में से एक है।

वह साहसिक खेलों का आनंद लेती है और बड़े पैमाने पर यात्रा करती है।

अंग्रेजी और तेलुगु दोनों आसानी से बोली जाती हैं।

वाशिंगटन, डीसी में उनका घर है। उनकी एक पालतू बिल्ली है और वो जानवरों को बहुत पसंद करती है।


एक साक्षात्कार के दौरान, सिरीशा के दादा ने कहा कि ह्यूस्टन में अपने परिवार के साथ रहते हुए , वह अक्सर नासा जाती थी। उन्होंने कहा,

“उड़ान के बारे में उन्हें इतना जुनून था कि जब वह अपनी आँखों की समस्या के कारण नासा में शामिल होने में असमर्थ रही , तब भी उन्होंने एरोनॉटिकल के क्षेत्र में अपनी शिक्षा जारी रखी।

उसने YouTube पर वीडियो बनाया है जिसका शीर्षक है ” Lessons from Sirisha Bandla: How to get into space industry” .

“सिरीशा एक बहादुर और एनर्जी से भरपूर बच्ची रही हैं । एक इंटरव्यू में, सिरीशा के दादाजी ने उसके बारे में कहा,जब वो देर रात घर से बाहर जाती थी तो वह उन्हें रोकने की कोशिश करते थे लेकिन वह लगातार आश्वासन देती थी कि – चिंता करने की ज़रूरत नहीं है और वह खुद की देखभाल करने में सक्षम है।”

उनके नाना ने एक साक्षात्कार में उनके बचपन के बारे में जानकारी देते हुए कहा,” जब उनकी उम्र के अन्य बच्चे , बिजली गुल होने पे , अपने चारों ओर के अंधेरे से डरते थे, लेकिन सिरीशा में अँधेरे का डर बिलकुल नहीं था।

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने ट्विटर पर सिरीशा को उनकी सफलता पर बधाई दी। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर दो फोटो भी पोस्ट की, एक सिरीशा की और दूसरी पूरी टीम की ।

भारतीय वंश की महिलाएं नयी उचाईयां हांसिल कर रही है और अपनी योग्यता साबित कर रही है ।

तेलुगु मूल की सिरीशा बंदला 11 जुलाई को रिचर्ड ब्रैनसन और वीएसएस यूनिटी टीम के साथ अंतरिक्ष में गयी जो अपने आप में एक बहुत बड़ी बात है । उनकी यह उपलब्धि अंतरिक्ष अन्वेषण के युग में सभी भारतीयों को गौरवान्वित करता है !

सिरीशा बंदला उत्तरी अमेरिका के तेलुगु संघ (टाना / TANA ), जो उत्तरी अमेरिका के सबसे पुराने और सबसे बड़े भारतीय-अमेरिकी संगठनों में से एक है, की भी सदस्य है।


Hindi me Biography ke liye yahan click karen

 360 total views,  2 views today

Lata

Hello Friends, Thank you for stopping by at a2zHindiInfo.com। आपकी तरह मुझे भी current affairs और General Knowledge बहुत पसंद है और आज के ज़माने में अपने आस पास जो हो रहा है उससे अपने आप को अपडेटेड रखना भी बहुत जरूरी है । मैंने जो भी ज्ञान हासिल किया है उसे मै सबके साथ शेयर करना चाहती हूं और मेरा ये ब्लॉग उसी दिशा में एक कदम है। अगर आपका कोई सुझाव है इस वेबसाइट को लेके या कोई शिकायत है तो हमें जरूर लिक भेजें। हमारा ईमेल हैं contact@a2zhindiinfo.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *